दिन में 10 बार हाथ धो रहे हैं पहले हाथ नहीं धोते थे

कोरोना के चलते आजकल लोग हर घंटे पर हाथ धो रहे हैं। दिन भर हाथ धोने में लगे हुए हैं जब देखो तब हाथ धो रहे हैं। सेनेटाइज कर रहे हैं। सैनिटाइज शब्द आज पूरे भारत में सबसे ज्यादा इस समय प्रयोग किया जा रहा है जिस किसी को देखो उससे बात निकल कर आ रही है सेनीटाइज।

कोरोना के चलते आजकल लोग हर घंटे पर हाथ धो रहे हैं। दिन भर हाथ धोने में लगे हुए हैं जब देखो तब हाथ धो रहे हैं। सेनेटाइज कर रहे हैं। सैनिटाइज शब्द आज पूरे भारत में सबसे ज्यादा इस समय प्रयोग किया जा रहा है जिस किसी को देखो उससे बात निकल कर आ रही है सेनीटाइज।

प्राचीन काल से ही हमारे यहां यह परंपरा रही है कि यदि आप खाना खा रहे हैं या कोई भी खाने की वस्तु खा रहे हैं, तो उस वक्त आपको हाथ ठीक प्रकार से साफ कर लेना चाहिए। लेकिन पिछले दिनों कुछ ऐसा हो गया था कि कम ही लोग हाथ धोकर के खाना खाते थे।

अधिकांश लोगों को ऐसा देखा जाता था कि वह खाना खाने के बाद जो हाथ गंदे हो जाते हैं तब तो धोते थे, लेकिन खाना खाने से पहले हाथ नहीं धोते थे । अनेक बार ऐसे लोगों को देखने का मौका आपको भी मिला होगा जो खाना खाने से पहले नहीं, खाना खाने के बाद में हाथ धोते हैं।

मनुष्य डर से ही मानता है

मनुष्य की प्रकृति कुछ ऐसी है कि मनुष्य डर से ही मानता है अब लोगों में मरने का डर हो गया है कि हाथ नहीं धोए और खाना खाया तो मर जाएंगे। कोरोना पर्यावरण में है या नहीं इस बात का तो पता नहीं, लेकिन कोरोना लोगों के दिमाग में अवश्य है और वह ही उन्हें हाथ धोने को मजबूर कर रहा है।

कोरोना के इस दौर में जिन लोगों ने भी दिन में कई कई बार हाथ धोए हैं उनमें से अनेक लोग हैं जो खाना खाने से पहले कभी हाथ नहीं होते थे। खाना खाने के बाद हाथ धोते थे।

स्वच्छ भारत अभियान

नरेंद्र मोदी तो पहले ही कहते थे स्वच्छ भारत अभियान, लेकिन उसका प्रभाव ज्यादा नहीं आया। स्वच्छ भारत अभियान में यदि ज्यादा प्रभाव आया तो वह कोरोना का है अब लोगों में स्वच्छता का भाव जगने लगा है लेकिन यह भाव लोगों को आगे भी जगाए रखना होगा, क्योंकि हाथ धोने की आदत तो उनको आगे भी बनाए रखनी होगी। खाना खाने से पहले अवश्य हाथ धोने चाहिए।

अब बात आ रही है कि व्यक्ति को 1 मीटर दूर रहकर बात करनी चाहिए जबकि स्वास्थ्य का नियम यही है कि व्यक्ति को जहां तक संभव हो, हमेशा ही 1 मीटर की दूरी से बात करनी चाहिए। लेकिन कुछ लोगों की आदत ऐसी होती है कि वह बिल्कुल मुंह पर मुंह रखकर ही बात करते हैं। स्वास्थ्य नियम के अनुसार हमेशा व्यक्ति को एक दूसरे से 1 मीटर की दूरी पर ही बात करनी चाहिए। इस नियम को भी भविष्य में बनाए रखना चाहिए।

जन जागरण का कार्य तो पूरा हो गया है अब तो उसे अपनी आदत बना लें । तीसरा एक स्वास्थ्य का नियम यह भी हैं जब भी आपको खांसी आती है तो मुंह पर रुमाल या टिशू रखना चाहिए।

इन तीन नियमों का आजीवन पालन करने का संकल्प कोरोना वायरस के दौर में ले लें।

1 हमेशा खाना अच्छी तरह हाथ धोकर ही खाएं।

2. बात करते समय लोंगो से 1 मीटर की दूरी बनाए रखें।

3. खांसी आने पर या झींक आने पर मुह पर रुमाल या टिशू रखें।