डायबिटीज कंट्रोल कैसे करें 72 घंटे में

खाने में आपको निम्न प्लान को फॉलो करना है
सुबह उठकर के पानी पीना है।

स्टेप 1 – ब्रेकफास्ट

12:00 बजे तक फल लेते रहें, याद रहे कि फल सीजन के हों।

स्टेप 2 – लंच

दो प्लेट लेकर बैठें।

एक प्लेट में सलाद जैसे टमाटर,खीरा, ककड़ी, गाजर, मूली, चुकंदर

दूसरी प्लेट में दाल, चावल सब्जी, रोटी, राजमा, इडली डोसा, जो भी आपका भोजन हो।

दोनों प्लेटो की मात्रा बराबर होनी चाहिए। पहले सलाद वाली प्लेट खाएं, फिर भोजन की।


स्टेप 3 – डिनर

डिनर 7 से 8 बजे तक कर लेना है।

उसमें भी लंच की तरह दो प्लेटों में अपने भोजन को रखना है।

दोनों प्लेट बराबर मात्रा में हो,

पहली प्लेट में सलाद,

दूसरी प्लेट में दाल, चावल, सब्जी, रोटी, राजमा, इडली, डोसा, जो भी आपका भोजन है।

lunch dinner of diabetes patient

जो आपको नहीं करना है

आपको कोई भी डेरी प्रोडक्ट यूज़ नहीं करना है जैसे दूध, दही, लस्सी, मिठाइयां अंडा, मांस, मछली , बिस्किट, चॉकलेट, पैक्ड फूड, चीनी या चीनी से बने पदार्थ आदि।

पैक्ड फूड जो भी भोजन पैकेट में बंद हो, उसको कतई प्रयोग में नहीं लाना है

आप सोच रहे होंगे यदि हम डेरी प्रोडक्ट दूध, दही आदि प्रयोग नहीं करेंगे तो हमारी हड्डियां कमजोर हो जाएंगी आपको यह बात जानकर बड़ी हैरानी होगी कि आपने यदि इस डाइट प्लान को अपनाया तो आपको हड्डियों संबंधित किसी भी प्रकार की कोई बीमारी नहीं होगी

क्योंकि आप नेचुरोपैथी अर्थात प्रकृति के अनुसार अपना भोजन ले रहे हैं और सच्चाई यह है कि मनुष्य का भोजन भी यही है।

महत्वपूर्ण :-

इसके लिए आपको एक घंटा नियमित व्यायाम की आवश्यकता है वह किसी प्रकार का व्यायाम हो सकता है चाहे वह नृत्य हो पैदल चलना वाकिंग, तैराकी योगा जिम आदि किसी भी प्रकार का व्यायाम हो सकता है।

प्रतिदिन 10 मिनट कपालभाति और 10 मिनट अनुलोम विलोम भी करना है। व्यायाम करने से आपकी इंसुलिन के उत्पादन की क्षमता बढ़ जाती है।

मीठा खाना कोई परहेज नहीं है मीठा आपको वह खाना है जो प्रकृति ने बनाया है जैसे फल खजूर, अंगूर, आम, केला, सेब अमरूद, जामुन, आदि खूब खाइए गन्ने का जूस भी पी सकते हैं लेकिन बहुत धीरे-धीरे करके।

मीठा खाने से कोई समस्या नहीं है यदि मीठा को रिफाइंड करके खाते हैं तो सही नहीं हैं जैसे बिस्किट, मिठाइयां, चॉकलेट, पैक्ड फूड, चीनी या चीनी से बने पदार्थ आदि।

नही करोगे तो तो लाभ नही मिलेगा।

तीन महीने तक इन नियमों का कड़ाई से पालन करना है नही करोगे तो तो लाभ नही मिलेगा।

डायबिटीज कंट्रोल 72 घंटे में ही हो जाएगी लेकिन पूर्व स्वास्थ्य लाभ लेने के लिए आपको लगातार पालन करना है।