कोरोना वायरस को जानें क्या है ये।

सर्दी जुकाम भी एक वायरस से होता है जो मौसम बदलने पर वह मनुष्य के शरीर में पैदा हो जाता है। यह जानवरों से आया हुआ वायरस है इसलिए थोड़ा यह मजबूत वायरस है।

डेंगू ,चिकनगुनिया ,यह सब वायरस है

स्वाइन फ्लू यह भी एक वायरस है इसी तरह से कोरोना भी एक वायरस है यदि इस कोरोना वायरस का अगर कोई सबसे ज्यादा कारगर उपाय है तो वह है सभी लोंगो से कम से कम दो मीटर की दूरी पर बने रहें। और जितना भी संभव हो अपने घरों पर ही बने रहें। यह वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है।

गिलोय एक ताकतवर आयुर्वेदिक औषधि है

यदि इसमें थोड़ा अदरक तुलसी, काली मिर्च डाल देते हैं तो यह और ज्यादा प्रभावशाली हो जाती है। इसका इस्तेमाल करके हम कोरोना वायरस से पूरी तरह बच सकते हैं। इससे एक तरफ से तो इमन्युनिटी बढ़ेगी और जो कोरोना वायरस के लक्षण हैं उनसे लड़ने में यह पूर्ण रूप से सक्षम है।

गिलोय इतना प्रभावी है कि चिकनगुनिया,डेंगू ,स्वाइन फ्लू आदि को इन औषधियों से ठीक किया गया है।

कोरोना वायरस किसी मच्छर आदि से नहीं फैलता है जिन देशों से जो प्रभावित लोग आ रहे हैं उन लोगों से जरूर दूर रहने की जरूरत है। यदि हम योग करते हैं तो हमारी इम्युनिटी बड़ी रहती है तो ऐसे लोगों पर जिनकी इम्यूनिटी ठीक है इस प्रकार के वायरस ज्यादा प्रभाव नहीं डाल पाते हैं।

सामान्य सर्दी, जुखाम, बुखार को कोरोना मानने का भ्रम ना पाले लेकिन कोई भी व्यक्ति जो फॉरेन ट्रिप से लौटा है वह संक्रमित हो सकता है। उसके संपर्क में आने वाले लोग सावधानी बरते।

यदि उस व्यक्ति को सर्दी जुकाम खांसी बुखार है तो उनमें कोरोना होने की संभावना है और यदि उनको हो जाता है तो उनका प्रथक रखें ।

कोई विदेश से लौटा है

यदि उसको लग रहा है उसका स्वास्थ्य ठीक नहीं है तो उसको अपनी जांच अवश्य करा लेनी चाहिए और इस के सामान्य लक्षण हैं सर्दी, जुखाम, बुखार, खांसी,छींक आना है। यदि आपको लगता है कि ऐसे कोई भी व्यक्ति हैं तो उनसे 1 मीटर की कम से कम की दूरी बनाकर अवश्य रखें।

खाने में तो शाकाहार की तरफ ही बढ़ना पड़ेगा और मांसाहार से दूरी बनाकर रखना पड़ेगा। जो लोग मांसाहारी हैं उन्हें भी शाहकार अपनाना चाहिए। जितने भी स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचाने वाले भोजन हैं उन से बचें। उनसे आपकी इम्यूनिटी कमजोर होगी। कोरोना वायरस से बचने के लिए आप नियमित रूप से अपने हाथ साबुन और पानी से अच्छे से धोएं।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार , ब्रिटेन ,अमरीका, भारत, चीन, इटली समेत कोरोना वायरस दुनिया के 148 देशों में फैल गया है और इसके कारण 7019 मौतें हो चुकी हैं।

महामारी घोषित

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना वायरस को महामारी घोषित कर दिया है। महामारी उस बीमारी को कहा जाता है जो एक ही समय में दुनिया के अलग-अलग देशों के लोगों में फैल रही हो।

कोरोना वायरस से बूढ़ों, अस्थमा, मधुमेह और हृदय रोग जैसी परेशानियों का सामना करने वालों के बीमार होने की आशंका अधिक रहती है। छोटे बच्चों को भी संभावना रहती है इसलिए उन्हें भी लोंगो के संपर्क से दूर रखना चाहिए।