नेचरोपैथी क्या है

नेचुरोपैथी को हिंदी में प्राकृतिक चिकित्सा कहा जाता है। प्राकृतिक चिकित्सा का अर्थ आप जैसा कि समझ रहे हैं वह यही है प्रकृति के नजदीक रहकर और प्रकृति के नियमों को पालन करके अपने शरीर को स्वस्थ रखना है। जब हम प्रकृति के नियमों का उल्लंघन करने लगते हैं तो प्रकृति भी हमारे खिलाफ चली जाती है और हम रोग ग्रस्त हो जाते हैं।

इसलिए आज के इस आधुनिक युग में नेचुरोपैथी की बहुत बड़ी आवश्यकता है क्योंकि जब व्यक्ति बीमार हो जाता है और शारीरिक रूप से कष्ट पाता है तो इलाज के लिए एलोपैथी का सहारा लेता है कुछ चीजों में एलोपैथी की व्यवस्थाएं ठीक है लेकिन लेकिन जो रोग आपको प्रकृति के नियमों के उल्लंघन की वजह से हुए हैं वह रोग तो प्रकृति के नजदीक आकर ही ठीक होंगे।

इसलिए आज के इस युग में नेचुरोपैथी की जानकारी होना प्रत्येक व्यक्ति के लिए जरूरी हो गया है उसी को देखते हुए मैंने यह सारी जानकारियां जहां लिखना शुरू की है। यहां पर आपको सभी रोगों के बारे में जानकारी मिलेगी कि यह रोग क्यों होते हैं और जिन का प्राकृतिक इलाज क्या है

क्योंकि मैं एक नेचुरोपैथी का चिकित्सक हूं इसलिए मैं चाहता हूं कि सभी लोग स्वस्थ रहें और वह भी बिना कोई दवाई खाए। नेचुरोपैथी चिकित्सा पद्धति हर व्यक्ति के लिए आवश्यक है। चाहे बीमार है या स्वस्थ , चाहे वह अमीर हो या गरीब यह समान रूप से काम करती है।और अन्य सभी चिकित्सा पद्धतियों के मुकाबले सस्ती भी है।

यदि आप नीचे दिए व्हाट्सएप के बॉक्स को टच करेंगे तो आप सीधे हमारे मोबाइल के व्हाट्सएप पर कनेक्ट होंगे. वंहा से अपनी समस्या की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं